Telegram Channel Join Now
Facebook Channel Join Now

Uttar Pradesh Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana 2023 Apply Online

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के ग्रामीण क्षेत्रो में बेरोजगार युवाओ को Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana 2023 के तहत एक बड़ी सौगात देने जा रही है | इस योजना के माध्यम से राज्य के ग्रामीण क्षेत्रो के युवाओ को रोजगार देने और शहरों की ओर पलायन से रोकने तथा “एक जनपद एक उत्पाद” को बढ़ावा देने के लिए बेरोजगारी को खत्म कर युवाओ को आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास किया जा रहा है | Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana की पात्रता, ब्याज सब्सिडी, दस्तावेजों की सूची और अन्य जानकारी के लिए नीचे लिखे गए लेख को अवश्य पढ़े |

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana

योजना से सम्बन्धित महत्वपूर्ण बिन्दु

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana का परिचय

इस योजना द्वारा ग्रामीण क्षेत्रो में बढ़ती बेरोजगारी को समाप्त कर युवाओ को रोजगार देना और आत्मनिर्भर बनाने का प्रयास है | ग्रामीण शिक्षित बेरोजगार युवाओ को शहरों की ओर पलायन से हतोत्साहित को कम करना और गाव में ही रोजगार देना तथा “एक जनपद एक उत्पाद” का विकास करना है | जिसके लिए सरकार द्वारा गाव के शिक्षित बेरोजगार युवा को प्रोत्साहित कर उन्हें आर्थिक वित्तीय सहायता प्रदान करना और समृद्ध बनाने हेतु UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana की संरचना की गयी है | UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana हेतु ऑनलाइन आवेदन करने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट http://upkvib.gov.in/ पर क्लिक करे |

यह भी अवश्य पढ़े : 

पंडित दीनदयाल ग्रामौद्योग योजना का उद्देश्य 

इस योजना का प्रमुख उद्देश्य राज्य के ग्रामीण क्षेत्रो के शिक्षित बेरोजगार युवाओ को गाव में ही अधिक से अधिक रोजगार के संसाधन उपलब्ध कराना है l पंडित दीन दयाल ग्रामोउद्योग योजना के तहत योगी सरकार ग्रामीण क्षेत्रो के युवाओ को रूपए 10.00 लाख कम ब्याज पर उद्योग की शुरुआत हेतु बैंक के माध्यम से प्रदान कर रही है l Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के अंतर्गत सामान्य वर्ग को 4% की उपादान पर तथा अनुसूचित जाति, अनु जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक, विकलांग, महिलायें एवं भूतपूर्व सैनिक को ऋण ब्याज की राशि उपादान के रूप में दी जाती है l यह योजना जिला में जिला अधिकारी के नियंत्रण में सम्बन्धित गावो में चलायी जाएगी l

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana की विशेषता

  • इस योजना के द्वारा उत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रो में शिक्षित बेरोजगार युवाओ को रोजगार मिलने में काफी मदद मिलेगी और रोजगार के नए नए अवसर प्राप्त होंगे, जिससे बेरोजगारी में कमी आयेगी |
  • Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम की वित्तपोषित इकाईयों को परियोजना लागत से Margin धन सब्सिडी और उद्यमी अंशदान को घटाने के बाद अवशेष धनराशि पर ऋण ब्याज उपादान (अधिकतम 13 प्रतिशत तक) की सुविधा ऋण के प्रथम वितरण की तिथि से तीन वर्षों तक लागु होगी।
  • प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम एकमात्र योजना होने के कारण उस पर अधिक से अधिक धनराशि का ऋण हो जाता है l जिस कारण शिक्षित ग्रामीण युवाओ को रोजगार प्रदान नहीं कर पाती हैं। किन्तु इस योजना के लागु होने से ऐसी सम्भावनाओं से निजात मिलेगी तथा भविष्य में स्थापित ईकाईयाँ सुदृढ़ होगी एवं रोजगार की सम्भावना और अधिक बेहतर होगी।
  • इस योजना के तहत सभी प्रकार की संगत प्रक्रिया वित्तीय वर्ष से चालू होगी और ऑनलाइन किया जायेगा |

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana की अनिवार्य योग्यता 

  • आवेदक उत्तर प्रदेश राज्य का निवासी हो l
  • इस योजना का लाभ केवल बेरोजगार युवा ही ले सकते है l
  • उम्मीदवार की आयु 18-40 वर्ष के बीच हो l
  • इस योजना के तहत कम से कम 50% युवाओ को पिछड़ी/अनु./अनु.जन. जाति से सामिल किया जायेगा l
  • पॉलिटेक्निक/आईटीआई और अन्य टेक्निकल डिग्रीधारी बेरोजगार युवाओ को प्राथमिकता प्रदान किया जायेगा l
  • ऐसे उम्मीदवार जो कही भी कार्य किये है उन्हें इस योजना का लाभ लेने के लिए अनुभव प्रमाण पत्र देना होगा l
  • भारत सरकार अथवा यूपी सरकार द्वारा स्वरोजगार हेतु संचालित किसी अन्य योजना के द्वारा ऋण प्राप्त लाभार्थी इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे |

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के लिए दस्तावेज 

इस योजना का लाभ लेने के लिए उम्मीदवार को सरकार द्वारा मांगी गयी निम्नलिखित दस्तावेज को प्रस्तुत करना होगा : –

  • आधार कार्ड
  • प्रोजेक्ट का पूरा सारांश
  • जाति प्रमाण पत्र
  • शैक्षिक योग्यता
  • आयु प्रमाण पत्र
  • उम्मीदवार/लाभार्थी का उद्योग के साथ नवीनतम फोटोग्राफ
  • जहा पर उद्योग शुरू करना है उस जमीन की दस्तावेजो की प्रमाणित छायाप्रति ग्राम प्रधान कार्यकारी अधिकारी से l

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana ऑनलाइन आवेदन कैसे करे l

इस योजना के आवेदन हेतु उम्मीदवार को सर्वप्रथम उत्तर प्रदेश सरकार के आधिकारिक वेबसाइट http://upkvib.gov.in/  पर जाना होगा | जहा पर पंडित दीनदयाल ग्रामोद्योग रोजगार योजना के लिए आवेदन पत्र आमंत्रित हो रही है। इस योजना में रूचि रखने वाले इच्छुक उम्मीदवार पंडित दीनदयाल ग्रामोद्योग रोजगार योजना का आवेदन करने से पहले योजना हेतु पात्रता, मानदंड, आयु सीमा, आवश्यक दस्तावेज आदि की जांच अवश्य करे।

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार उन इच्छुक उम्मीदवारों के लिए प्रशिक्षण की भी सुविधा प्रदान करेगी जिनका चयन पीटी के तहत UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के लिए होगा | इस योजना द्वारा उत्तर-प्रदेश सरकार की प्रबल मंशा प्रदेश  के शिक्षित ग्रामीण बेरोजगार युवाओं के लिए रोजगार के नए – नए अवसर को बढ़ावा देना है |

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana Online रजिस्ट्रेशन

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana का ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म भरने के विषय में चरण दर प्रक्रिया नीचे दिया गया है जिसका आप अनुशरण कर आवेदन फॉर्म भर सकते है : –

चरण : 1 – आवेदन के लिए इच्छुक उम्मीदवार सर्वप्रथम अधिकारी वेबसाइट पर जाये या सीधी लिंक पर क्लिक करे – http://upkvib.gov.in/

चरण : 2 – मुख्य पेज के “ऑनलाइन सेवाए” पर जाये और वहा “मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना” के लिंक पर क्लिक करे l या सीधे लिंक पर क्लिक करे – http://cmegp.data-center.co.in/

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana official

चरण : 3 – अब आपके सामने मुख्यमंत्री ग्रामोउद्योग रोजगार योजना की E-पोर्टल खुल जायेगा जैसा की नीचे चित्र में दिखाया गया है l

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana E Portal

चरण : 4 –  इस पेज पर आपको “ऑनलाइन आवेदन के लिए यहां क्लिक करें” के लिंक पर क्लिक करेंगे तो नीचे प्रदर्शित चित्र अनुसार “रजिस्ट्रेशन पेज” आपके सामने आ जायेगा l

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana Registration

चरण : 5 – उम्मीदवार को रजिस्ट्रेशन पेज पर अपना आधार नंबर, मोबाइल नंबर, नाम भर कर रजिस्ट्रेशन के लिए Register बटन पर क्लिक करे l

लॉग इन कैसे करे

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री ग्रामोउद्योग रोजगार योजना के ऑनलाइन लॉग इन करने के प्रक्रिया नीचे विस्तार से दिया गया है :

चरण : 1 – पूर्व से पंजीकृत उम्मीदवार को अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा या सीधे लिंक पर क्लिक करे –http://upkvib.gov.in/

चरण : 2 – मुख्य पृष्ठ के “ऑनलाइन आवेदन करे” पर जाकर “मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना” के लिंक पर क्लिक करे l या सीधे यहाँ क्लिक करे – http://cmegp.data-center.co.in/

चरण : 3 – अब आपके सामने मुख्यमंत्री ग्रामोउद्योग योजना की E पोर्टल खुल जायेगा l

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana Login portal

चरण : 4 – इस पेज पर “लॉग इन करने के लिए यहाँ क्लिक करे” के लिंक पर जाये और क्लिक करे तब लॉग इन पेज खुलेगा l जैसा नीच प्रदर्शित है l

चरण : 5 – यहाँ पर उम्मीदवार यूजर id और पासवर्ड अंकित कर लॉग इन बटन पर क्लिक करे l लॉग इन पूर्ण होने के बाद सभी आवश्यक कालम को भर कर एप्लीकेशन को सबमिट कर दे l

उत्तर प्रदेश Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के आवेदन की स्थिति कैसे देखे

इस योजना के ऑनलाइन आवेदन की स्तिथि देखने के निम्नलिखत प्रक्रिया है : –

  • सबसे पहले उम्मीदवार अधिकारिक वेबसाइट http://upkvib.gov.in/ पर जाये l
  • वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर ऑनलाइन आवेदन करे पर जाकर आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करे के लिंक पर क्लिक करे l
  • अब आपके सामने मुख्यमंत्री ग्रोमउद्योग योजना की ई पोर्टल खुल जायेगा l
  • जहा पर आपको आवेदन की स्थिति के लिंक का चयन करना होगा l
  • अब आप रजिस्ट्रेशन नंबर दर्ज कर View Application Status पर क्लिक करे l
  • यहाँ से आपको अपने आवेदन की स्थिति का पता चल जायेगा l

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana का पीडीएफ फॉर्म कैसे डाउनलोड करे l 

  • इस योजना का पीडीएफ फॉर्म डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आप अधिकारिक वेबसाइट http://upkvib.gov.in/ पर जाये l
  • मुख्य पेज के ऑनलाइन आवेदन करे पर जाकर ऑनलाइन आवेदन के लिए यहाँ क्लिक करे l
  • तदअनुसार आपके सामने मुख्यमंत्री ग्रामौद्योग योजना की ई पोर्टल ओपन होगा l
  • जहा पर आप “आवश्यक प्रारूप डाउनलोड करे” के विकल्प का चयन करे l
  • इसके बाद आप DPR या कार्यस्थल प्रमाणपत्र का फॉर्म डाउनलोड कर सकते है l

योजना की अवधि

  • यह योजना विज्ञापन जारी होने की तिथि से 5 वर्ष तक लागु रहेगा l

योजना के तहत चयन मापदंड 

  • आई0टी0आई0 व पॉलीटेक्निक डिग्रीधारी युवक जो बेरोजगार है उन्हें प्राथमिकता दिया जायेगा l
  • ऐसे युवा जो शिक्षित और बेरोजगार है तथा सरकारी नौकरी की आयु सीमा समाप्त हो गयी है l
  • एस0जी0एस0वाई0 तथा शासन के अन्य योजना से प्रशिक्षण प्राप्त युवक को वरीयता l
  • ऐसे युवा जो परम्परागत कारीगर है जैसे बधाई, लोहार, कुम्हार इत्यादि l
  • स्वरोजगार को स्थापित करने और रूचि रखने वाले l
  • कक्षा 10+2वी स्तर तक व्यासायिक शिक्षा में उत्तीर्ण हो l
  • इस योजना के तहत वह भी अभ्यर्थी सामिल हो सकते है जिन्होंने ने सेवायोजन कार्यालय में रोजगार हेतु पंजीकरण कराया है l

लाभार्थी का चयन कैसे होगा 

Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana का लाभ लेने के लिए सरकार द्वारा समय समय पर गठित कमेटी द्वारा उम्मीदवारों का चयन कराती है l जिसमे उ0प्र0 खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड/शासन की गठित चयन समिति या जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी/परगना अधिकारी की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा चयन किया जाता है l कमेटी ऐसे लाभार्थी का चयन करती है जो किसी भी दशा में ऋण को चूका सकता है और ऋण लेने से पूर्व वांछित प्रशिक्षण प्राप्त किया हो l साथ ही उसके पास स्वयं का अंशदान उपलब्ध हो l आवेदक मूल रूप से ग्राम का निवासी हो अथवा ग्रामीण क्षेत्र में अपना उद्योग लगाने का इच्छुक हो l

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के भुगतान की प्रक्रिया |

इस योजना के अंतर्गत लिए गए ऋण धनराशि को प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत दी जाने वाली सहायता (अनुदान) की धनराशि से घटाकर शेष बचे हुए धनराशि पर बैंक द्वारा ब्याज लगाया जाता है l पं० दीनदयाल ग्रामोद्योग रोजगार योजना के अन्तर्गत ब्याज उपादान की अधिकतम सीमा 13% से अधिक नहीं होगी। इकाईयों/उद्योग के मालिक को ब्याज उपादान की धनराशि का भुगतान प्रत्येक छः माह पर करना होगा | उपादान के प्रत्येक भुगतान की सूचना सम्बन्धित जिला ग्रामोद्योग अधिकारी द्वारा लाभार्थी एवं बैंक को भी एक सप्ताह के अन्दर प्रदान करना है |

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के उपादान (ऋण) का लाभ किन परिस्थितियों में देय नहीं है |

इस योजना के अंतर्गत/प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत स्थापित इकाईयो का ब्याज का निम्लिखित परिस्थितियों में देय नहीं है :-

  • यदि उद्यमी द्वारा प्राप्त ऋण का दुरूपयोग किया जाता है तो |
  • ऋण प्राप्त करने के बाद उद्यमी द्वारा प्रोजेक्ट पूरा नही किया जा रहा हो और जानबूझकर चुक किया जा रहा है l
  • यदि उत्पाद/सेवा कार्य नहीं कर रही हो या बंद हो गयी हो |
  • अपवाद स्वरूप किसी भी आकस्मिक/दैविक घटना में उद्यमी की किसी दुर्घटना में मृत्यु होने के कारण उद्योग प्रभावित होता है तो प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत टीम गठित कर उद्योग का परिक्षण होगा उसके बाद ग्रामो उद्योग के मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा नियमानुसार निर्णय लिया जोयगा।

इकाई कार्यरत न रहने पर ब्याज उपादान की वापसी 

यदि उद्यमी द्वारा 03 वर्ष के अन्दर अपना उद्योग बंद कर दिया जाता है अथवा जानबूझकर उसके द्वारा ऋण उपादान का दुरूपयोग किया जाता है तया इकाई का परियोजना के अनुसार संचालन नहीं किया जाता है एसी परिस्तिथियों में बैंक द्वारा ऋण उपादान की वसूली हेतु प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत गठित कमेटी के माध्यम से करेगी |

UP Mukhyamantri Gramodyog Rojgar Yojana के विषय में और अधिक जानकारी के लिए अधिकारिक वेबसाइट : https://www.upkvib.gov.in/DeendayaYojna-hi.aspx पर विजिट कर पढ़ सकते है l 

संपर्क सूत्र

इस योजना के विषय में किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए नीचे दिए गए संपर्क विवरण से कर सकते है l

  • फोन : 2208321/2208310/2208313/2207004
  • फैक्स : 0522-2208243
  • ई-मेल : ceoupkvib@gmail.com
  • वेबसाइट : www.upkvib.gov.in
  • कार्यालय समय: सोमवार-शुक्रवार: सुबह 09:30 बजे – शाम 06:00 बजे
  • ग्रामोद्योग समाधान सेल टोल फ्री नंबर: 1800-120-7699
  • उ० प्र० खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड
  • 8, तिलक मार्ग, लखनऊ – 226001

Leave a comment