Telegram Channel Join Now
Facebook Channel Join Now

सुकन्या समृद्धि योजना 2024 : Sukanya Samriddhi Yojana(SSY), पात्रता, लाभ, ब्याज, आवेदन करे

Sukanya Samriddhi Yojana (SSY) भारत सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा संचालित की जाने वाली एक प्रकार की राष्ट्रीय बचत योजनाओं में से एक है l इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा विशेष तौर पर देश की बालिकाओं के लिए बनाई गयी है l इस योजाना के माध्यम से केंद्र सरकार बेटियों को सबसे अधिक ब्याज दर उपलब्ध करा रही है l वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए सरकार ने इस योजना के तहत 8.0% वार्षिक ब्याज देने का निर्णय लिया है जो चक्रवृद्धि है l सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत भारत सरकार द्वारा वर्ष 2015 में बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के अंतर्गत शुरू की गयी है l जिसका मुख्य उद्देश्य बालिकाओं की शिक्षा को बढ़ावा देना है l

Sukanya Samriddhi Yojana

सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बालिकाओं के भविष्य की सुरक्षा हेतु धन बचत का एक कोष बनाना है l इस योजना के अंतर्गत जमा किये गये राशि की परिपक्वता पर आयकर अधिनियम की धारा 80सी के तहत 100% की छुट प्रदान की जाती है l दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम आपको सुकन्या समृद्धि योजना से सम्बन्धित सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे योजना का उद्देश्य, पात्रता, लाभ एवं विशेषताये, आवश्यक दस्तावेज, ब्याज का दर, आवेदन प्रक्रिया इत्यादि उपलब्ध कराएँगे l जिसके लिए आपको इस आर्टिकल पर अंत तक बने रहना होगा l

योजना से सम्बन्धित महत्वपूर्ण बिन्दु

What is the Sukanya Samriddhi Yojana? (सुकन्या समृद्धि योजना क्या है)

यह एक प्रकार की ऐसी योजना है जो भारत सरकार द्वारा संचालित की जाने वाली बेटी बचाओ बेटी पढाओ (BBBP) अभियान को प्रत्यक्ष रूप से बढ़ावा दे रही है l इस योजना को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, स्वास्थ्य परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा सयुक्त रूप से क्रियान्वयन किया जा रहा है l

सुकन्या समृद्धि योजना के प्राथमिक लक्ष्य निम्लिखित है : –

  • इस योजना के तहत लड़कियों की सुरक्षा और अस्तित्व सुनिश्चित करना l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के माध्यम से शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में लडकियों की अधिक से अधिक संख्या को बढ़ावा देना लक्ष्य है l
  • इस योजना के तहत लिंग निर्धारण और लैगिंग भेदभाव की प्रथा को समाप्त करना है l

Sukanya Samriddhi Yojana Details

योजना का नामSukanya Samriddhi Yojana
शुरुकर्ताकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीजन्म से लेकर 14 वर्ष तक की बालिकाए
उद्देश्यबालिकाओं की शिक्षा को बढ़ावा देना और समानता लाना
लागुसम्पूर्ण भारत में
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन
अधिकारिक वेबसाइटकिसी भी राष्ट्रीयकृत बैंक के माध्यम से

सुकन्या समृद्धि योजना का उद्देश्य

इस योजना का प्रमुख उद्देश्य लड़कियों को विभिन्न चुनौतियों से छुटकारा पाना है जो उन्हें शिक्षा प्राप्त करने में बांधा उत्पन्न करती है l इस योजना के माध्यम भारत सरकार लड़कियों की शिक्षा और शादी पर होने वाले एकमुश्त धन की खर्च से उनके माता-पिता को चिंतामुक्त करना है l Sukanya Samriddhi Yojana के तहत अब लड़कियों के माता-पिता किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जाकर लड़की के नाम से खाता खोलकर उनके भविष्य के लिए धन इक्कठा कर सकते है l जिस पर सरकार की तरफ से 8.0% ब्याज प्रदान की जा रही है l इस योजना के तहत अब लड़कियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए लोगो का ध्यान आकर्षित किया गया है l

What is benefit of Sukanya Yojana? | Sukanya Samriddhi Yojana Benefits

  • इस योजना के तहत खाता को चालू रखने के लिए एक वित्तीय वर्ष में कम से कम रु० 250 और अधिकतम रु० 1.5 लाख तक जमा कर सकते है l जो समाज के सभी वर्गों के लिए सुविधाजनक हो l यदि आप किसी वित्तीय वर्ष में किस्त का भुगतान नहीं करते है तो आप विलम्ब शुल्क जमा कर खाते को पुन: चालू कर सकते है l
  • आप अपने पुत्री की उच्च शिक्षा हेतु इस खाते में जमा की गयी कुल राशि का 50% प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर निकाल सकते है l
  • सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खोले गए खाते पर सरकार की तरफ से सबसे अधिक ब्याज 8.0% वार्षिक प्रदान कर रही है l
  • यह योजना सरकार द्वारा स्ववित्तपोषित है जिसके परिपक्व होने पर रिटर्न मिलने की पूर्ण गारंटी है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana को आप सम्पूर्ण भारत में किसी भी डाकघर से बैंक में या बैंक से डाकघर में आसानी से ट्रान्सफर करा सकते है l
  • इस योजना के तहत धनराशि को जमा करने के लिए सरकार द्वारा निम्नलिखित टैक्स (कर) लाभ प्रदान कर रही है :-
    • धारा 80सी के तहत इस योजना में जमा किये गए राशि की परिपक्वता की राशि पर 100% की छुट प्रदान की जाती है l
    • इस योजना के तहत जमा किये गए राशि पर आयकर अधिनियम की धारा 10 के अनुसार चक्रवृद्धि ब्याज मुक्त है l
    • इस योजना के तहत परिपक्वता राशि पर किसी भी प्रकार का कोई टैक्स देय नहीं है l

सुकन्या समृद्धि योजना की विशेषताएं

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत पात्रता (Eligibility)

  • इस योजना के तहत माता-पिता या कानूनी अभिवाहक बालिका के 10 वर्ष आयु तक किसी भी बैंक में खाता खोल सकते है l
  • लाभार्थी लड़की भारत देश की निवासी होनी चाहिए l
  • इस योजना के तहत एक परिवार से अधिकतम दो लडकियों को लाभ दिया जा सकता है l
  • यदि परिवार में जुड़वा लडकिया है तो तीसरी लड़की का खाता खोला जा सकता है l

सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खोलने के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • सुकन्या समृद्धि योजना के खाता खोलने का आवेदन फॉर्म l
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र l
  • खाता संचालित करने वाले का एड्रेस प्रूफ और पहचान पत्र l
  • यदि जुड़वा बच्चे है तो उसके लिए चिकित्सक द्वारा जारी की गयी जन्म प्रमाण पत्र l
  • अन्य कोई डॉक्यूमेंट जो बैंक या डाकघर द्वारा सुझाया गया हो l

Sukanya Samriddhi Yojana Online/Offline

इस योजाना के तहत उम्मीदवार किसी भी बैंक या डाकघर में जाकर अपने पुत्री के नाम से खाता खोल सकता है l उसे खाता खोलने के लिए नीचे दिए गए चरणों का अनुसरण करना होगा l

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी डाकघर या बैंक में जाना होगा l
  • अब आपको वहा से आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा l
  • आवेदन पत्र में पूंछी गयी सभी आवश्यक जानकारी सही सही दशा में दर्ज करनी होगी l
  • अब आपको आवेदन फॉर्म के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज को संलग्न करना होगा l
  • इसके बाद आप योजना के तहत प्रथम राशि डेबिट कार्ड, डिमांड ड्राफ्ट, नकद या चेक के माध्यम न्यूनतम रु० 250 और अधिकतम रु० 1.5 लाख जमा कर सकते है l
  • अब आपके आवेदन को सम्बन्धित बैंक या पोस्ट ऑफिस द्वारा संसाधित किया जायेगा l
  • प्रोसेसिंग के बाद आपके सुकन्या समृद्धि खाते को चालू कर दिया जायेगा l जिसके प्रमाण स्वरूप आपको एक पासबुक दिया जायेगा l
  • इस तरह से आप अपने पुत्री के लिए Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता खोल सकते है l

How to Pay for SSY Online (SSY खाता में पैसा कैसे जमा करे)

  • सबसे पहले आपको अपने मोबाइल में IPBB एप्प डाउनलोड करना होगा l
  • अब आपको अपने बैंक खाता से रुपये को IPBB खाते में ट्रान्सफर करना होगा l
  • इसके बाद आपको अपने IPBB खाते में लॉग इन करना होगा DOP Product के तहत सुकन्या समृद्धि योजना का चयन करे l
  • अब आपको अपना Sukanya Samriddhi Yojana का खाता नंबर और कस्टमर आईडी दर्ज करे l
  • इसके बाद आपको अपना किस्त की राशि और अवधि का चयन करे l
  • जब राशि भुगतान हो जाएगी तो IPBB इसकी सूचना प्रदान करेगा l
  • इस एप्प के माध्यम से जब भी पैसा ट्रान्सफर किया जायेगा, आपको इसकी सूचना मिलेगी l

Sukanya Samriddhi Yojana का Application Form कैसे भरे ?

  • सबसे पहले आपको फॉर्म पर बैंक शाखा या पोस्ट ऑफिस के पते का विवरण दर्ज करे l
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज़ फोटो आवेदन फॉर्म के दाहिने साइड में चिपकाया जाये l
  • आवेदन फॉर्म में आवेदक का नाम, पिता-माता/अभिवाहक, पता, मोबाइल नंबर, आधार संख्या इत्यादि को दर्ज करे l
  • इसके बाद आपको सुकन्या समृद्धि योजना का उल्लेख करना होगा l
  • अब जमा राशि को शब्द और अंक दोनों में स्पष्ट अंकित करना होगा l
  • राशि के भुगतान का तरीका जैसे चेक, नेट बैंकिंग, कार्ड इत्यादि का चयन करे l
  • आवेदन फॉर्म में आपको DD या चेक का नंबर और तिथि दर्ज करे l
  • अब आपको बालिका (जमाकर्ता का नाम) और जन्मतिथि दर्ज करे l
  • बालिका के अभिवाहक का निम्न विवरण दर्ज करे : –
    • नाम
    • जन्मतिथि
    • आधार संख्या
    • पैन कार्ड संख्या
    • पता
    • जन्म प्रमाण पत्र और जमाकर्ता के खाते का प्रकार
    • आवेदन फॉर्म के साथ EKYC डाक्यूमेंट्स का विवरण दर्ज करे
    • नॉमिनी का नाम भरे
    • फॉर्म पर नाम सहित हस्ताक्षर
    • यदि आवेदन अशिक्षित है तो दो गवाह के हस्ताक्षर
    • नामाकन के अनुभाग में हस्ताक्षर की तिथि, जगह का उल्लेख करे l

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता खोलने वाले बैंक

  • State Bank of India
  • United Bank of India
  • UCO Bank
  • Punjab National Bank
  • Corporation Bank
  • Canara Bank
  • Bank of India
  • Axis Bank
  • Oriental Bank of Commerce
  • Indian Bank
  • ICICI Bank
  • Allahabad Bank
  • Vijaya Bank
  • Central Bank of India
  • Bank of Maharashtra
  • Bank of Baroda
  • Andhra Bank
  • Union Bank of India
  • Syndicate Bank
  • Punjab & Sind Bank
  • Indian Overseas Bank
  • IDBI Bank
  • Dena Bank

SSY के लिए आयु और उसकी परिपक्वता सीमा

सुकन्या समृद्धि खाता खोलना

  • इस योजना के तहत एक लड़की केवल एक SSY खाता रख सकती है l
  • सुकन्या समृद्धि खाता केवल किसी वाणिज्यिक बैंक या पोस्ट ऑफिस में खोले जा सकते है l
  • इस खाता को बालिका के जन्म से लेकर 10 वर्ष के मध्य कभी भी खोला जा सकता है l

SSY के लाभार्थी

  • इस योजना के तहत भारत के किसी भी बालिका को अधिकार है खाता खोलने से लेकर राशि को Mature होने या बंद होने तक l

SSY के अंतर्गत जमा राशि

  • इस योजना के तहत सुकन्या खाते में अभिवाहक बालिका के 18 वर्ष होने तक धनराशि जमा कर खाते का संचालन कर सकते है l
  • बालिका के 18 वर्ष पूर्ण होने पर खाते को वह अपने हाथ में आसानी से ले सकती है l
  • इस योजना के तहत कम से कम राशि रु० 250 (पहले रु० 1000) और अधिकतम 50 के गुणज में जमा किया जा सकता है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत एक वित्तीय वर्ष में अधिकतम 1.5 लाख रुपये 15 वर्ष तक जमा किया जा सकता है l
  • इस खाते में राशि को डिमांड ड्राफ्ट, नेट बैंकिंग, डेबिट कार्ड, चेक इत्यादि माध्यम से जमा किया जा सकता है l

जमा राशि पर ब्याज

  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत जमा किये गए राशि पर सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2023-24 की प्रथम तिमाही ( 1 अप्रैल 2023 से 31 जून 2023 तक ) वर्तमान ब्याज दर 8.0% दिया जा रहा है l
  • यदि आप द्वारा खाते में रुपये जमा नहीं किये जाते है या फिर रु० 250 से कम जमा करते है तो खाता को डिफ़ॉल्ट माना जायेगा परन्तु इस स्थिति में परिपक्वता तक ब्याज मिलता रहेगा l खाता को नियमित करने के लिए आपको प्रति डिफाल्टर रु० 50 की जुर्माना देकर चालू करा सकते है l

Sukanya Samriddhi Yojana की परिपक्वता अवधि

  • इस योजना के तहत खाता खोलने की तिथि से बालिका की उम्र 21 वर्ष होने पर या 18 वर्ष में शादी होने पर होती है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत आपको केवल 15 वर्ष तक राशि जमा करना होगा l उसके बाद आपको परपक्वता तक ब्याज मिलाता रहेगा, भले ही आप कोई राशि जमा नहीं कर रहे है l
  • इस योजना के तहत खाता खोलने के 21 वर्ष बाद कोई ब्याज देय नहीं होगा l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खोले गए खाते पर ब्याज तब नहीं मिलेगा जब लड़की किसी अन्य देश की नागरिक हो जाती है l
  • सुकन्या खाते में अधिकतम सीमा रु० 1.5 लाख से अधिक जमा राशि पर ब्याज नहीं मिलेगा l इस अधिकतम राशि को जब चाहे तब निकाल सकते है l

Sukanya Samriddhi Yojana Interest Rate

केंद्र सरकार ने वर्तमान में सुकन्या खाते का ब्याज दर 7.2% से बढाकर 8.0 % प्रतिवर्ष कर दिया गया है जो वार्षिक आधार पर चक्रवृद्धि के रूप में दिया जाता है l इस योजना के तहत ब्याज का निर्धारण सरकार द्वारा किया जाता है जो तिमाही होती है l

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत प्रदान की जाने वाली ब्याजदर का विवरण नीचे तालिका में दिया गया है : –

अवधिब्याज दर (%)
अप्रैल 2023 से जून 2023 तक8.0%
अप्रैल 2020 से आगे7.6%
1 जनवरी 2019 से 31 मार्च 2019 तक8.5%
1 अक्तूबर 2018 से 31 दिसम्बर 2018 तक8.5%
1 जुलाई 2018 से 30 सितम्बर 2018 तक8.1%
1 अप्रैल 2018 से 30 जून 2018 तक8.1%
1 जनवरी 2018 से 31 मार्च 2018 तक8.1%
1 जुलाई 2017 से 31 दिसम्बर 2017 ताल8.3%
1 अक्तूबर 2016 से 31 दिसम्बर 2016 तक8.5%
1 जुलाई 2016 से 30 सितम्बर 2016 तक8.6%
1 अप्रैल 2016 से 30 जून 2016 तक8.6 %
1 अप्रैल 2015 से9.2%
1 अप्रैल 2014 से9.1%

Sukanya Samriddhi Yojana Interest Rate Calculator

यह कैलकुलेटर किस व्यक्ति को सुकन्या समृद्धि योजना के तहत जमा किये गए राशि पर मिलाने वाले ब्याज की गणना करने के लिए प्रयोग किया जाता है l यह कैलकुलेटर आपको परपक्वता राशि पर अंतिम रिजल्ट देने के लिए हर साल किये गए निवेश और हर साल के ब्याज दर का प्रयोग करेगा l Sukanya Samriddhi Yojana खाता के लिए ब्याज की गणना कैलेंडर माह के पांचवें दिन और आखिरी दिन के बीच खाते में सबसे कम शेष राशि के आधार पर की जाती है। योजना के तहत ब्याज हर वित्तीय वर्ष के अंतिम में जमा किया जाता है l

इस योजना के तहत खाते में जमा राशि पर ब्याज की गणना करने के लिए निम्लिखित पद्धति का प्रयोग कर सकते है :-

A = P(1 + r/n)^(n*t)

जबकि : – P = Initial deposit, = Rate of interest , n = Number of times interest is compounded in a year, = Number of years, = Amount at maturity.

यदि SSY के तहत कम या अधिक राशि का भुगतान हो जाता है तो क्या करे ?

  • कम राशि : – यदि इस योजना के तहत किसी वित्तीय वर्ष में न्यूनतम राशि रु० 500 से अधिक का भुगतान नहीं किया जाता है तो खाता को डिफ़ॉल्ट माना जायेगा l फिर भी रु० 50 प्रति डिफ़ॉल्ट जमा कर खाते को चालू किया जा सकता है l
  • अतिरिक्त राशि : – Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाते में रु० 1.5 लाख से अधिक राशि का भुगतान किया जाता है तो अधिक राशि पर कोई ब्याज देय नहीं है l इस राशि को जमाकर्ता कभी भी निकाल सकते है l

What is Sukanya Samriddhi Yojana Withdrawal Rules

  • सुकन्या समृद्धि खाता के परिपक्व हो जाने के बाद ब्याज सहित खाते की सम्पूर्ण राशि बालिका द्वारा निकाला जा सकता है l जिसके लिए निम्नलिखित दस्तावेज की आवश्यकता होगी l
    • राशि के निष्कासन हेतु आवेदन फॉर्म
    • पहचान पत्र
    • एड्रेस प्रूफ
    • नागरिकता का प्रमाण पत्र
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत लड़की के माता-पिता/अभिवाहक द्वारा उसके उच्च शिक्षा के लिए आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत कर राशि निकाल सकते है l
  • धनराशि निकालने के लिए लाभार्थी को आवेदन के साथ विश्वविद्यालय या कॉलेज में प्रवेश हेतु शुल्क रसीद आदि जैसे कागजात जमा करने होंगे l
  • Sukanya Samriddhi Yojana खाते से निकली जाने वाली अधिकतम राशि पिछले वर्ष उपलब्ध राशि का 50% होगा l इसे आप 5 किस्तों में भी निकाल सकते है l

Sukanya Samriddhi Yojana खाते से समय से पहले निकासी के नियम

  • जब बालिका की उम्र 18 वर्ष होने पर उसकी शादी हो जाती है तब SSY खाते से धनराशि को समय से पहले निकासी की अनुमति प्रदान की जाती है l
  • इस योजना के तहत धनराशि को निकालने के लिए शादी से एक महिना पहले और शादी से 3 माह बाद आवेदन कर सकते है l साथ में लड़की के उम्र का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा l
  • यदि Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता खोले गए लड़की किसी दुसरे देश की नागरिक हो जाती है तो इस स्थिति में खाता बंद कर दिया जाता है l
  • यदि बालिका की मृत्यु हो जाती है तो खाता में जमा राशि को माता-पिता/अभिवाहक द्वारा निकाला जा सकता है हलाकि लड़की के मृत्यु होनें का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा l
  • यदि खाता 5 वर्ष तक चालू रहा है और बैंक या डाकघर को यह लगता है की बालिका या उसके माता-पिता को खाता जारी रखने में समस्या हो रही है l तो ऐसी स्थिति में बालिका या अभिवाहक समय से पहले खाता बंद कर सकते है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता बंद करने के अन्य कारण भी हो सकते है l परन्तु योगदान से अर्जित ब्याज वही होगा जो डाकघर या बैंक द्वारा निर्धारित की गयी है l

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत Tax benefits

  • आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80सी के तहत योजना SSY में जमा किये गए अधिकतम धनराशि रु० 1.5 लाख पर छुट प्रदान की जाती है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाते में ब्याज से जो राशि मिलती है उस पर भी टैक्स फ्री होता है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के अंतर्गत परिपक्वता राशि या निकासी राशि पर कर का लाभ प्रदान किया जाता है l

SSY के पासबुक पर क्या डिटेल्स दर्ज होती है ?

Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता खोलने पर बैंक या पोस्ट ऑफिस द्वारा एक पासबुक प्रदान की जाती है l जिस पर बालिका सहित उसके माता-पिता/अभिवाहक की फोटो बैंक मैनेजर से प्रमाणित, बालिका का नाम, जन्मतिथि, पता और जमा की गयी राशि का विवरण दर्ज होता है l जब भी आवेदक द्वारा खाते पैसा जमा, निष्काषित, ब्याज का लाभ खाता को बंद किया जायेगा तो पासबुक को बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करना होता है l

सुकन्या समृद्धि योजना के खाता को पोस्ट ऑफिस से बैंक में कैसे ट्रान्सफर करे l

  • सर्वप्रथम आपको उस पोस्ट ऑफिस में जाना होगा जहा आपका खाता चालू है l
  • खाता ट्रान्सफर के कारणों को कार्यालय के PO से बताये और ट्रान्सफर फॉर्म को विधिवत कर जमा करे l
  • ट्रान्सफर फॉर्म के साथ पासबुक और E-KYC डाटा को भी डाकघर में जमा करे l
  • आपके अनुरोध पर पोस्ट ऑफिस में SSY खाता बंद कर दिया जाएगा l
  • अब आपको उस बैंक के शाखा में जाना होगा जहा आप खाता ट्रान्सफर कराना चाहते है l
  • उस बैंक में सभी आवश्यक दस्तावेज सहित EKYC डाटा को जमा करना होगा l
  • खाता ट्रान्सफर अनुरोध स्वीकृत होने के बाद आपको पासबुक प्रदान कर दिया जायेगा l

ध्यान देने योग्य बाते :-

  • खाता ट्रान्सफर कराने के लिए बालिका को PO कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं है l
  • सभी कार्यवाही अभिवाहक द्वारा सम्पादित की जा सकती है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana खाता का पैसा पोस्ट ऑफिस या बैंक के भीतर या बाहर नि:शुल्क किया जायेगा l
  • Sukanya Samriddhi Yojana खाते का पैसा बालिका या उसके अभिवाहक में से किसी एक का निवास परिवर्तन का प्रमाण पत्र देकर किया जा सकता है l
  • किसी अन्य स्थिति में SSY खाता में परिवर्तन हेतु रु० 100 का शुल्क देना होगा l

सुकन्या समृद्धि योजना बंद करने के नियम

परिपक्व होने पर

  • बालिका के 21 वर्ष पूर्ण होने पर योजना के तहत खाता परिपक्व हो जाता है l
  • Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाता परिपक्व हो जाने पर ब्याज सहित कुल राशि का भुगतान बालिका को किया जाता है l
  • इस योजना के तहत परिपक्व राशि का भुगतान निवास प्रमाण पत्र, पहचान और नागरिकता के दस्तावेज देने पर किया जाता है l

समय से पहले बंद

  • बच्ची की मृत्यु पर : – Sukanya Samriddhi Yojana के तहत खाते को बालिका के मृत्यु होने पर मृत्यु प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर बंद करा सकते है l शेष जमा राशि अभिवाहक को प्रदान कर दिया जायेगा l
  • बालिका के विवाह : – बालिका के 18 वर्ष पूर्ण करने के बाद अभिवाहक द्वारा बालिका के विवाह हेतु शादी की तिथि से एक माह पहले या शादी के बाद तीन माह के अन्दर आयु प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर समय पर्व राशि को निकाल सकता है l
  • चिकित्सा उपचार :- यदि बालिका को किसी गंभीर बीमारी हो जाती है या अभिवाहक की मृत्यु हो जाती है तो इस स्थिति में बीमारी से सम्बंधित दस्तावजे और मृत्यु प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर खाता को बंद कराया जा सकता है l
  • बालिका की स्थिति में परिवर्तन : – यदि इस योजना के तहत खाता धारक बालिका किसी दुसरे देश की नागरिकता प्राप्त कर लेती है तो ऐसी स्थिति में एक माह में अन्दर सूचित कर खाता को बन कराया जा सकता है l
  • SSY खाते के पांच वर्ष पूरे : – यदि खाता को जारी रखने में बालिका और उसके अभिवाहक को कोई समस्या होती है तो उचित कारण दिखाकर बंद कराया जा सकता है l
  • अन्य कारण : – खाता खुलने के बाद उसे किसी भी समय बंद किया जा सकता है l जमा राशि पर ब्याज बैंक या डाकघर पर निर्भर करता है l

Difference between SSY, PPF और LIC

सुकन्या समृद्धि योजना, सार्वजनिक भविष्य निधि और LIC कन्यादान योजना के बीच अंतर निम्नलिखित हैं l

विवरणSukanya Samriddhi Yojanaपब्लिक प्रोवाइड फण्डLIC कन्यादान योजना
पालिसी या खाता किसके द्वारा खोला गया है lबालिका की आयु 18 वर्ष होने तक उसका पालन -पोषण माता-पिता द्वारा लिया जायेगा lभारतीय नागरिक हो lबालिका के पिता
पात्रता10 वर्ष से कम आयु की भारतीय मूल की बालिका18 वर्ष से आयु का कोई भी भारतीय निवासीबालिका के पिता जिनकी आयु 18 से 50 वर्ष के मध्य हो
जमा राशिन्यूनतम रु० 250 और अधिकतम रु० 1.5 लाखन्यूनतम रु० 500 और अधिकतम रु० 1.5 लाखलगभग रु० 40,000 से शुरू
भुगतान की अवधि15 वर्ष15 वर्ष6 वर्ष, 10 वर्ष, 15 वर्ष , 20 वर्ष (बीमा अवधि से 3 वर्ष कम )
परिपक्वता अवधि21 वर्ष15 वर्ष13 से 25 वर्ष
ब्याज दर7.60% प्रतिवर्ष वार्षिक रूप से संयोजित7.10% प्रतिवर्ष वार्षिक रूप से संयोजित
Premature withdrawalबालिका के 18 वर्ष पूर्ण करने पर6 वर्ष पूर्ण होने परNA
कर लाभEEE लाभEEE लाभकर मुक्त
लोन सुविधाNAतीसरे वित्तीय वर्ष के बाद और छठे वित्तीय वर्ष के अंत में ही उपलब्ध होता हैयदि पॉलिसी अभी भी सक्रिय है तो लगातार तीन प्रीमियम के भुगतान के बाद ऋण प्राप्त किया जा सकता है।
परिपक्व राशिजमा धन पर निर्भर करता हैनिवेश अवधि और वार्षिक योगदान पर निर्भर करता हैन्यूनतम रु० 1 लाख और अधिकतम कोई सीमा नहीं

Leave a comment