Telegram Channel Join Now
Facebook Channel Join Now

उत्तर प्रदेश युवा उद्यमिता विकास अभियान 2024 | UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan

UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan की प्रारम्भ उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2020 में किया गया है l इस योजना के माध्यम से राज्य के युवाओ को रोजगार प्रदान कराना सरकार का मुख्य कार्य है l जिसके लिए सरकार ने 50 करोड़ रुपये का प्रस्ताव रखा है और सदन की बैठक वर्ष 2020-21 में घोषणा किया है l UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan के तहत राज्य के प्रत्येक जिले में युवाओ को प्रशिक्षण के लिए केंद्र स्थापित किया जा रहा है l लगभग 2 लाख युवाओ को इस योजना द्वारा कौशल विकास मिशन के प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षित करने का लक्ष्य है l इस योजना के विषय में पूरी जानकारी के लिए नीचे अंकित लेख को पढ़े l

UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan

मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण बीमा योजना

UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan 2024

इस योजना के नाम से ही स्पष्ट है की सरकार ने युवाओ को उद्योग और रोजगार देने का लक्ष्य निर्धारित किया है l UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan (Yuva Hub Scheme) का मुख्य उद्देश्य राज्य के युवाओ को सभी प्रकार की ट्रेड्स जैसे – फिटर, इलेक्ट्रीशियन, कंप्यूटर इत्यादि से सम्बंधित प्रशिक्षण प्रदान कर रोजगार के योग्य बनाना और उन्हें रोजगार दिलाने में सहायता करना है l युवा हब स्कीम युवाओ को प्रशिक्षण प्रदान कर नौकरी दिलाने का प्रमुख उद्देश्य रखती है l इस योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले युवाओ को सरकार द्वारा रु0: 2500 प्रतिमाह छ्त्रवृति दिया जाता है l

जब भी कोई महिला विधवा हो जाती है और उसके पास किसी भी प्रकार के आय का साधन नहीं रहता है तो उसे अनेको प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ता है l इसी समस्या से बचने के लिए सरकार ने UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan के साथ विधवा महिलाओ के लिए एक अलग प्रकार के स्कीम की घोषणा किया है l जिसका नाम तलाकशुदा महिला पेंशन स्कीम है, जिसके तहत सरकार विधवा महिलाओ को प्रतिमाह 500 रुपये की राशि सहायता हेतु प्रदान करती है l इसके साथ ही अनेक महिलाओ से सम्बन्धित योजनाओ का संचालन सरकार करती है l

उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र वर्ष 2020-21 में मुख्यमंत्री योगी जी ने राज्य के किसानो के लिए UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan/Yuva Hub Scheme के तहत अनेको प्रकार की योजनाओ को लांच किया है l जिसकी सूची निम्नलिखित है : –

  • तलाकशुदा महिला पेंशन योजना– तलाकशुदा महिलाओं को प्रतिमाह 500 रुपये पेंशन दी जाती है l
  • निराश्रित महिलाओं को रु०: 500 प्रतिमाह पेंशन
  • अयोध्या में पर्यटक सुविधा केंद्र हेतु 85 करोड़ की घोषणा
  • तुलसीदास स्मारक के लिए 10 करोड़ की घोषणा
  • ग्रामीण जलापूर्ति कार्यक्रमों के लिए 3000 करोड़
  • मुख्यमंत्री प्रशिक्षु प्रोत्साहन योजना – युवाओं को 2500 रुपये हर महीने
  • बुंदेलखंड क्षेत्र में सुखा प्रभावित इलाको/गावो में पाइप पेयजल योजना के लिए 3300 करोड़
  • युवा हब योजना – सरकार ने राज्य के प्रत्येक जिले में युवा हब केंद्र स्थापित करने की योजना बनाया है l जहां पर युवाओ को कौशल विकास से सम्बन्धित प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा l
  • PWD पूर्वांचल निधि में 300 करोड़
  • बुंदेलखंड निधि में 210 करोड़
  • दिल्ली से मेरठ क्षेत्र में रैपिड ट्रांजिट सिस्टम बनाने के लिए 900 करोड़ रुपये
  • मेडिकल कॉलेज आजमगढ़ के लिए 96 करोड़
  • गोरखपुर सहित राज्य के अन्य शहरों की मेट्रो परियिजना के लिए 200 करोड़ रुपये
  • लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान लखनऊ के लिए 477 करोड़
  • मनरेगा योजना के लिए 4800 करोड़
  • पीएम आवास योजना के लिए 6240 करोड़
  • गन्ना किसानों के लिए गन्ना की कीमत 325 रुपये प्रति क्विंट
  • राष्ट्रीय पोषण अभियान के लिए 4000 करोड़ रुपये
  • काशी विश्वनाथ मंदिर स्थित वाराणसी का कॉरिडोर निर्माण के लिए 200 करोड़
  • गांवों में जल जीवन मिशन को 3000 करोड़
  • दिव्यांग पेंशन योजना के लिए 621 करोड़
  • मुख्यमंत्री किसान दुर्घटना कल्याण बीमा को 500 करोड़
  • कानपुर मेट्रो रेल परियोजना की सुधार और नवीनीकरण हेतु 358 करोड़ रुपये
  • आगरा मेट्रो रेल परियोजना के लिए 286 करोड़ रुपये
  • लखनऊ में राष्ट्रीय प्रेरणा स्थल हेतु 50 करोड़
  • राज्य नीति आयोग का गठन किया जायेगा
  • सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के लिए 35 करोड़ रुपये
  • राज्य में नए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की स्थापना के लिए 81 करोड़ रुपये
  • 500 करोड़ रुपये अयोध्या में एयरपोर्ट निर्माण के लिए
  • पर्यटन यूनिट निर्माण के प्रोत्साहन हेतु 50 करोड़ की व्यवस्था
  • रामगढ़ ताल गोरखपुर में वाटर स्पोर्ट्स संचालन के लिए 25 करोड़
  • उत्तर पुलिस को आधुनिक बनाने के लिए 122 करोड़ देने की घोषणा
  • स्वच्छ भारत मिशन के तहत गांव को स्वच्छ बनाने के लिए  5791 करोड़
  • प्रदेश में युवाओ को रोजगार देने में 1200 करोड़
  • कन्या सुमंगला योजना के तहत कन्याओ की विवाह के लिए 1200 करोड़
  • गंगा एक्सप्रेस वे निर्माण हेतु 2000 करोड़
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के छात्राओं को लैपटॉप देने के लिए
  • डिप्लोमा क्षेत्र में छात्रों को लैपटॉप प्रदान के लिए 300 करोड़
  • केजीएमयू लखनऊ को 919 करोड़ रुपये
  • अटल आवासीय विद्यालय के लिए 270 करोड़ रुपये
  • एसजीपीजीआई के लिए 820 करोड़ रुपये
  • पुलिस बल की इकाईओ को आधुनिकरण के लिए 122 करोड़
  • विधि विज्ञान प्रयोगशालाओं के निर्माण और सुदृण हेतु 60 करोड़
  • ग्रामीण क्षेत्रो के मार्गों की निर्माण और चौड़ीकरण के लिए 2305 करोड़
  • राज्य में सड़को के निर्माण और मरम्मत हेतु 1 हजार करोड़ रुपये
  • पुलिस विभाग की फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी की स्थापना हेतु 20 करोड़
  • वाराणसी में संस्कृति केंद्र निर्माण हेतु 180 करोड़ की व्यवस्था

यूपी मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना (पंजीकरण)

UP Yuva Udyamita Vikas Abhiyan/Yuva Hub Scheme की आयु लिमिट

योगी सरकार द्वारा आईटीआई, पॉलिटेक्निक और कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले युवाओ को एक निश्चित राशि प्रदान करेगी l जिसके लिए आयु सीमा का निर्धारण किया गया है जो 18 – 35 वर्ष के मध्य है l इस आयु के बीच के अभ्यर्थी को सरकार द्वारा धन दिया जायेगा l जिसके लिए एक कमेटी का गठन किया गया है l कमेटी के निरिक्षण के उपरांत ही युवा को राशि मुहैया होगी l

यूपी विधवा पेंशन योजना (पंजीकरण)

उत्तर प्रदेश युवा हब स्कीम द्वारा धन देने के लिए कमेटी 

यूपी युवा उद्यमिता योजना के तहत युवाओ को धन वितरण के लिए व्यावसायिक शिक्षा विभाग द्वारा एक कमेटी का गठन किया गया है, इस कमेटी में 16 सदस्य सामिल है l इसका अध्यक्ष जिला अधिकारी, उपाध्यक्ष मुख्य विकास अधिकारी रहते है और आईटीआई, पॉलिटेक्निक के प्रधानाचार्य, डीआरडीए के निदेशक, लीड बैंक के प्रबन्धक सदस्य होते है l इसी कमेटी के अनुमोदन के उपरांत युवाओं को सरकार द्वारा वोजिफा दिया जाता है l

नोट : –  इस योजना के विषय में अधिक जानकारी के लिए आप Uttar Pradesh Chief Minister Office, Lucknow की अधिकारिक वेबसाइट पर upcmo.up.nic.in पर विजिट कर देख सकते है l

Leave a comment