Telegram Channel Join Now
Facebook Channel Join Now

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना 2024 | Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana Registration

Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024 (उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना 2024, पात्रता, लाभ, आवश्यक दस्तावेज, विशेषताये, आवेदन कैसे करे?, अधिकारिक वेबसाइट, हेल्पलाइन नंबर, ताजा ख़बर, स्टेटस, लिस्ट, अप्लाई, रजिस्ट्रेशन, अनुदान राशि, पात्रता) (Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana, Benefits, Beneficiary, Apply Online, Registration, Official Website, How to Apply, Status, Registration, Eligibility, Required Documents, Application Form pdf, Latest News, Helpline Number)

कोरोना वायरस संक्रमण के कारण प्रतिदिन हमारे देश को आज भी नई-नई चुनौतियों का समाना करना पड़ रहा है l देश में बहुत से ऐसे बच्चें है जिनके माता-पिता में से कोई एक या दोनों की मृत्यु कोरोना वायरस के संक्रमण से हुई है l उत्तर प्रदेश में लगभग 197 बच्चों की पहचान की गयी है जिनके माता-पिता की मृत्यु कोविड-19 वायरस के संक्रमण से हुई है एवं 1799 ऐसे बच्चों की पहचान की गई है जिनके माता-पिता में से किसी एक की मृत्यु इस कोरोना वायरस के कारण हुई है l

Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana

इस तरह के सभी बच्चों को लाभ पहुचाने के लिये उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा एक योजना की शुरुआत की गई है l जिसका नाम उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना है l इस योजना के तहत प्रदेश सरकार द्वारा इन बच्चों को आर्थिक सहायता के साथ अन्य कई सारी मूलभूत सुविधाए प्रदान की जाएगी l जिसके प्रयोग से वह अपना जीवन यापन सुगमता से कर सकते है l दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana से सम्बन्धित सभी तरह के महत्वपूर्ण जानकरी प्रदान करेंगे l इस योजना का लाभ लेने के लिए कृपया आप इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक अंत तक अवश्य पढ़े l

उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना क्या है?

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की गयी है l इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के उन सभी बच्चों की सहायता की जाएगी जिनके माता-पिता में से किसी एक या फिर दोनों की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुई है l इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 30 मई 2021 को किया गया है l Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के माध्यम से न केवल बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाएगी बल्कि उनके पढाई से लेकर शादी तक का खर्च सरकार द्वारा वहन की जाएगी l इस योजना के तहत बच्चों के पालन-पोषण हेतु बच्चें को या फिर अभिवाहक को रू० 4000 की आर्थिक सहायता हर माह दी जाएगी l

इसके अतिरिक्त इस योजना के तहत सरकार द्वारा कन्याओं के विवाह हेतु भी आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी l यदि बच्चें की आयु 10 वर्ष या इससे कम है और उसका कोई अभिवाहक नहीं है तो उसे राजकीय बालगृह में रहने की सुविधा प्रदान की जाएगी l इस योजना के तहत लड़कियों को भी अलग से आवासीय सुविधा प्रदान की जाएगी और वह सभी बच्चें जो विद्यालय/स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे है उन्हें लैपटॉप/टेबलेट प्रदान की जाएगी l

Details of Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana

योजना का नामUttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana
शुरुकर्ताउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीकोविड-19 वायरस के कारण अनाथ हुए बच्चें
उद्देश्यकोरोना वायरस संक्रमण के कारण अनाथ हुए बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
राज्यउत्तर प्रदेश
राशिरुपये 4000 प्रतिमाह
वर्ष2024
आवेदन प्रक्रियाऑफलाइन
अधिकारिक वेबसाइटhttps://balvikas.missionvatsalyaup.in/

Mukhyamantri Bal Seva Yojana का मुख्य उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन सभी बच्चों की आर्थिक सहायता प्रदान करना है जिनके माता-पिता में से किसी एक या दोनों की मृत्यु कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण हो गयी है l माता-पिता की मृत्यु हो जाने के कारण बच्चें अनाथ हो गए है l इस योजना के तहत उन सभी बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिससे वह अपना भरण-पोषण कर सके l Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के माध्यम से अब ऐसे बच्चों को दूसरो पर निर्भर होने की आवश्यकता नहीं होगी l क्योंकि इस योजना के तहत प्रदेश सरकार द्वारा सभी बच्चों की पूरी जिम्मेदारी उठाएगी l

UP Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024

Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के माध्यम से प्रदेश सरकार हर माह बच्चों की आवासीय व्यवस्था और पालन-पोषण से लेकर विवाह तक की सभी खर्च प्रदान करेगी l इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा इस योजना के जरिये बच्चें की पढाई की जिम्मेदारी भी उठाएगी l

UP Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024 के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 30 मई 2021 को की गयी है l
  • Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के माध्यम से उन सभी बच्चों की सहायता की जाती है जिनके माता-पिता में से किसी एक या दोनों की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण से हुई है l
  • इस योजना के तहत न केवल बच्चों को आर्थिक सहायता की जाती है वरन उनकी शिक्षा-दीक्षा से लेकर विवाह तक का खर्च सरकार द्वारा वहन की जाएगी l
  • इस योजना के माध्यम से सभी पात्र बच्चों को या अभिवाहक को प्रतिमाह रुपये 4000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी l
  • Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के तहत आर्थिक सहायता बच्चें के वयस्क होने तक प्रदान की जाएगी l
  • इसके अतिरिक्त इस योजना के जरिये लड़कियों के विवाह हेतु रुपये 1,0,1000 की आर्थिक मदद प्रदान की जाएगी l
  • इस योजना का लाभ लेने वाले बच्चे की यदि आयु 10 वर्ष का इससे कम है और उसका कोई अभिवाहक नहीं है तो ऐसी स्थिति में उस बच्चे को आवासीय सुविधा भी प्रदान की जाएगी l
  • Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana की सुविधा बच्चे को राजकीय बाल गृह के तहत प्रदान की जाएगी l
  • इस योजना के तहत पढाई करने वाले बच्चों को सरकार की तरफ से लैपटॉप या टेबलेट प्रदान की जाएगी l
  • इस योजन का लाभ उन्हीं बच्चों को प्रदान किया जायेगा जिन्होंने अपने ऐसे अभिवाहक को कोरोना संक्रमण के कारण खोया है जो आय अर्जित कर रहे थे l
  • Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के तहत सभी नाबालिक लड़कियों को केंद्र सरकार द्वारा संचालित कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय, प्रदेश की राजकीय बाल गृह एवं अटल आवासीय विद्यालयों के माध्यम से शिक्षा और आवासीय सुविधा प्रदान की जाएगी l

आईटीआई प्रक्षिक्षुओ हेतु जारी की गई पात्रता की शर्तें

कोविड-19 वायरस संक्रमण के कारण अपने माता-पिता में से किसी एक या दोनों को खो देने वाले बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिए उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की गयी है l इस योजना के माध्यम से आईटीआई ट्रेनी (प्रशिक्षु) को भी लाभ देने का निर्णय लिया गया है l जिसके लिए 8 जून 2021 को राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्रिंसिपल डॉ नरेश कुमार जी ने पात्रता की सभी शर्त जारी कर दिया है l इस योजना के तहत सभी पात्र लाभार्थियों को लैपटॉप, टेबलेट वितरित करने के अलावा प्रतिमाह आर्थिक मदद सहित शादी हेतु भी सहायता प्रदान की जाएगी l

ऐसे सभी आईटीआई प्रशिक्षु जो Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana का लाभ उठाना चाहते है उन्हें अपने जिले के नोडल आईटीआई कॉलेज में दाखिला करना होगा l आईटीआई प्रशिक्षु हेतु पात्रता की शर्ते कुछ इस प्रकार निर्धारित की गयी है l

  • ट्रेनी की आयु न्यूनतम 18 वर्ष होनी चाहिए l
  • लाभार्थी के माता-पिता की आयु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुआ हो l
  • यदि आवेदक के माता-पिता में से किसी एक की मृत्यु मार्च 2020 से पहले हुई है और दुसरे की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण के कारण हुआ है तो इस स्तिथि में भी इस योजना के अंतर्गत लाभ दिया जायेगा l
  • यदि आवेदक के माता-पिता की मृत्यु 1 मार्च 2020 से पहले हुआ है और आय अर्जित करने वाले अभिवाहक की मृत्यु कोविड -19 के वजह से हुई है तो भी वह इस योजना का लाभ ले सकता है l
  • ऐसे बच्चे भी इस योजना का लाभ उठा सकते है जिनके माता-पिता में से आय अर्जित करने वाले अभिवाहक की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण के कारण हुई है l
  • इसके अतिरिक्त यदि बच्चे के माता-पिता दोनों जीवित है परन्तु आय अर्जित करने वाले अभिवाहक की मृत्यु कोविड-19 संक्रमण के कारण हुई है और जीवित माता-पिता की वार्षिक आय रु० 2 लाख या उससे कम कम है तो भी इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा l

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की पात्रता क्या है?

  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए l
  • ऐसे बच्चें जिन्होंने कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता में से किसी एक को या दोनों को खो दिया है l
  • इस योजना के तहत अपने लीगल गार्डियन को कोविड-19 वायरस के कारण खोने वाले बच्चे को लाभ प्राप्त होगा l
  • ऐसे बच्चें जिन्होंने अपने आय अर्जित करने वाले अभिवाहक को कोरोना वायरस संक्रमण से खोया दिया है l
  • इस योजना के तहत ऐसे बच्चें जिनके माता-पिता में से एक कोई जीवित है और दूसरे की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हो गयी है l
  • बच्चें की आयु 18 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए l
  • एक ही परिवार के सभी बच्चें जिन्हें जैविक एवं कानूनी रूप से गोद लिया गया है l वह भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है l
  • इस योजना का लाभ लेने वाले बच्चें के वर्तमान माता-पिता की वार्षिक आय रुपये 2,00,000 से कम होनी चाहिए l

Mukhyamantri Bal Seva Yojana 2024 के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • निवास प्रमाण पत्र
  • लाभार्थी बच्चें का आयु प्रमाण पत्र
  • वर्ष 2019 से मृत्यु होने का प्रमाण पत्र
  • अभिवाहक एवं बच्चें की फोटो सहित पूर्व आवेदन फॉर्म
  • माता-पिता की मृत्यु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र (यदि कोविड-19 के संक्रमण से माता-पिता दोनों की मृत्यु हो जाती है तो आय प्रमाण पत्र की कोई आवश्यकता नहीं है l)
  • स्कूल/विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र
  • आवेदन पत्र
  • माता-पिता या लीगल गार्डियन का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • कोरोना वायरस संक्रमण से मृत्यु होने का प्रमाण पत्र
  • बाल एवं अधिक आयु होने का प्रमाण पत्र
  • परिवार रजिस्टर की नक़ल
  • मैरिड सर्टिफिकेट
  • शादी का कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र (इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक के परिवार की वार्षिक आय दो लाख रुपये से कम होनी चाहिए)
  • बालिका एवं उसके अभिभावक की नवीनतम फोटोग्राफ

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के दिशा निर्देश

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत कोरोना वायरस के कारण अपने माता-पिता को खो चुके बच्चों के भविष्य को सुरक्षित करने के उद्देश्य से किया गया है l
  • इस योजना के अंतर्गत प्रदेश सरकार द्वारा बच्चों को केंद्रीय विद्यालय में शिक्षा प्रदान करेगी l
  • इसके अतिरिक्त योजना के माध्यम से बच्चों की आयु 18 वर्ष होने तक रूपए 4000 की आर्थिक सहायता प्रतिमाह प्रदान की जाएगी l
  • इस राशि को बच्चों को देने के लिए सरकार द्वारा उनके नाम से बैंक में बचत खाता खुलवाने का निर्णय लिया गया है l
  • इसके अतिरिक्त बाल संस्थान में रहने वाले बच्चों के लिए RD (रिकरिंग खाता) खोले जायेंगे l
  • इस खाता में सरकार की तरफ से 18 वर्ष की आयु होने तक रूपए 1500 जमा किया जायेगा l
  • इसके अतिरिक्त इन बच्चों के अन्य खर्च हेतु प्रतिवर्ष रु० 12000 की सहायता प्रदान की जाएगी l
  • Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के तहत बालिकाओं को कस्तूरबा गाँधी बाल विद्यालय में नि:शुल्क शिक्षा प्रदान की जाएगी l
  • इसके अतिरिक्त ऐसी बालिकाओं के बैंक खाते में रु० 51000 की राशि जमा की जाएगी जिसे उनके विवाह के समय ब्याज सहित प्रदान की जाएगी l
  • Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के तहत सभी लाभार्थी बच्चों को आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य बीमा प्रदान की जाएगी l
  • लाभार्थी बच्चें की आयु 18 वर्ष होने तक बीमा का प्रीमियम राशि प्रदेश सरकार द्वारा पीएम केयर्स के जरीय भुगतान किया जायेगा l
  • इसके अतिरिक्त बच्चें की 18 वर्ष होने के बाद अगले 5 वर्षो तक उच्च शिक्षा प्राप्त करने के दौरान हर माह वित्तीय सहायता तथा 23 वर्ष की आयु पूर्ण करने के बाद लाभार्थी बच्चों को व्यवसाय/उद्योग शुरू करने के लिए पीएम केयर्स फण्ड से 10 लाख रुपये एकमुश्त प्रदान की जाएगी l

Mukhyamantri Bal Seva Yojana Online Registration करने की प्रक्रिया

यदि आप उत्तर प्रदेश के मूल निवासी है और Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana का लाभ लेने के लिए आवेदन करना चाहते है तो आपको नीचे दिए गए निम्नलिखित प्रक्रिया का अनुसरण करना होगा l

  • यदि आप ग्रामीण क्षेत्र में रहते है और इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते है तो सबसे पहले आपको अपने नजदीकी ग्राम विकास/पंचायत अधिकारी या विकास खंड या जिला प्रोबेशन अधिकारी कार्यालय में जाना होगा l
  • इसके अलावा यदि आप शहरी क्षेत्र के निवासी है तो आपको लेखपाल, तहसील या जिला प्रोबेशन अधिकारी के ऑफिस में जाना होगा l
  • अब आपको कार्यालय से इस योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा l
  • जिसके बाद आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी आवश्यक जानकारी जैसे नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी इत्यादि दर्ज करनी होगी l
  • सभी जानकारी अंकित करने के बाद आपको आवश्यक दस्तावेज आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा l
  • अब आपको पूर्ण किये गए आवेदन फॉर्म को कार्यालय में जमा करना होगा l
  • इस तरह आप Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के तहत आवेदन कर सकते है l
  • जिला बाल संरक्षण इकाई एवं बाल कल्याण समिति द्वारा पात्र बच्चों का चयन कर 15 दिवस के अन्दर उनकी आवेदन प्रक्रिया पूर्ण की जाएगी l
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी द्वारा माता-पिता के मृत्यु के बाद 02 वर्ष के अन्दर आवेदन किया जा सकता है l
  • आवेदन पत्र के सत्यापन होने पर ही इस योजना का लाभ प्रदान की जाएगी l

FAQS

प्रश्न :- उत्तर प्रदेश बाल सेवा योजना क्या है?

उत्तर : – उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की गयी है l इस योजना के अंतर्गत प्रदेश के उन सभी बच्चों की सहायता की जाएगी जिनके माता-पिता में से किसी एक या फिर दोनों की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुई है l इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 30 मई 2021 को किया गया है l Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के माध्यम से न केवल बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाएगी बल्कि उनके पढाई से लेकर शादी तक का खर्च सरकार द्वारा वहन की जाएगी l इस योजना के तहत बच्चों के पालन-पोषण हेतु बच्चें को या फिर अभिवाहक को रू० 4000 की आर्थिक सहायता हर माह दी जाएगी l

प्रश्न :- मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की पात्रता क्या है?

उत्तर :- इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक को उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना चाहिए l
ऐसे बच्चें जिन्होंने कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता में से किसी एक को या दोनों को खो दिया है l
इस योजना के तहत अपने लीगल गार्डियन को कोविड-19 वायरस के कारण खोने वाले बच्चे को लाभ प्राप्त होगा l
ऐसे बच्चें जिन्होंने अपने आय अर्जित करने वाले अभिवाहक को कोरोना वायरस संक्रमण से खोया दिया है l
इस योजना के तहत ऐसे बच्चें जिनके माता-पिता में से एक कोई जीवित है और दूसरे की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हो गयी है l
बच्चें की आयु 18 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए l
एक ही परिवार के सभी बच्चें जिन्हें जैविक एवं कानूनी रूप से गोद लिया गया है l वह भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है l
इस योजना का लाभ लेने वाले बच्चें के वर्तमान माता-पिता की वार्षिक आय रुपये 2,00,000 से कम होनी चाहिए l

प्रश्न :- उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना कब आई?

उत्तर :- इस योजना की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा 30 मई 2021 को किया गया है l Uttar Pradesh Mukhyamantri Bal Seva Yojana के माध्यम से न केवल बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाएगी बल्कि उनके पढाई से लेकर शादी तक का खर्च सरकार द्वारा वहन की जाएगी l

Leave a comment