केंद्र सरकार कृषि कार्य के लिए महिला स्वयं सहायता समूह के माध्यम से ड्रोन दीदी योजना के तहत देश की 15 हजार महिलाओ को ड्रोन पायलट बनाएगी l

ड्रोन दीदी योजना की घोषणा मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने दिल्ली के लाल किले से स्वतंत्रता दिवस की भाषण में 15 अगस्त 2023 को किया था

इस योजना का प्रमुख उद्देश्य महिला स्वयं सहायता समूह के माध्यम से कृषि कार्य के लिए किसानो को किराये पर ड्रोन उपलब्ध कराना है l

इन सभी ड्रोन का इस्तेमाल किसान भाइयो द्वारा कृषि कार्य जैसे उर्वरक/कीटनाशक छिडकाव इत्यादि में किया जायेगा l

इस योजना के तहत केंद्र सरकार लगभग 15000 ड्रोन महिला स्वयं सहायता समूह को उपलब्ध कराने की मंजूरी दे दिया है l

ड्रोन दीदी योजना को सुचारू रूप से क्रियान्वयन करने के लिए केंद्र सरकार अगले 4 वर्षो में लगभग 1261 करोड़ रुपये खर्च करेगी l

इस योजना के अंतर्गत ड्रोन को संचालित करने के लिए सरकार ड्रोन महिला पायलट को 15 दिवस का प्रशिक्षण दो चरणों में प्रदान करेगी l

ड्रोन को चलाने वाली महिला को 10-15 गाँव चिन्हित कर नामांकित किया जायेगा और ड्रोन दी जाएगी l महिलो ड्रोन पायलट में से एक को ड्रोन सखी के रूप में चुना जायेगा l

इस योजना के तहत महिला ड्रोन पायलट को सरकार की तरफ से प्रत्येक माह 15000 रुपये सैलरी के रूप में मानदेय दिया जायेगा l

प्रधानमंत्री ड्रोन दीदी योजना की शुरुआत 28 नवम्बर 2023 को किया गया है, इस योजना के विषय में अधिक जानकारी हेतु नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करे l