उत्तर प्रदेश सरकार मत्स्य उत्पादन में वृद्धि करने के लिए यूपी मुख्यमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना की शुरुआत किया है l

इस योजना के तहत सरकार मछुआरो को मछली उत्पादन के लिए बोट, जाल, मछली बीज इत्यादि उपकरण को खरीदने पर सब्सिडी दे रही है l

योजना को सुचारू रूप से क्रियान्वयन करने के लिए यूपी सरकार ने 4 करोड़ रुपये का बजट वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए प्रस्तावित किया है l

इस योजना का प्रमुख उद्देश्य मत्स्य उत्पादन में वृद्धि और ग्राम पंचायत के तालाबो को पट्टे पर लेने वाले मछुआरो की आय को दुगुना करना है l

योजना के अंतर्गत केवट, मल्लाह, निषाद, बांध, कहार, कुम्हार, राजभर, गोदिया, भर सहित मछुआरा समुदाय की 17 जातियों को सरकार मछली पालन हेतु प्रोत्साहित कर सब्सिडी प्रदान कर रही है l

राज्य सरकार यूपी मुख्यमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के अतिरिक्त मछुआरो को निषाद राज नाव सब्सिडी योजना के तहत मत्स्य उत्पादन हेतु सहायता कर रही है l

उत्तर प्रदेश सरकार योजना के प्रथम वर्ष में ही प्रत्येक ग्राम सभा में पट्टा धारी तालाबो पर मछली बीज बैंक स्थापित कर रही है l

जिसके फलस्वरूप अगले पांच वर्षो में यूपी मत्स्य सम्पदा योजना की मदद से सरकार लगभग 500 मछली बीज बैंक स्थापित करने का लक्ष्य रखा है l

यूपी मत्स्य सम्पदा योजना एवं निषाद राज नाव सब्सिडी योजना के विषय में अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए लिंक पर अवश्य क्लिक करे l